शनिवार, 17 अप्रैल 2021

केरल में घूमने के लिए 10 बेस्ट जगह | 10 Best Places to visit in Kerala - Hindi

केरल भारत का प्रमुख राज्य है जो की अपनी हरियाली, बीच और बांधो के लिए मशहूर है। केरल में चाय, काफी और विभिन्न प्रकार के मसालों का उत्पादन काफी अच्छी मात्रा में होता है।

केरल में कई पर्यटन स्थल हैं जो की घूमने के लिए बहुत ही अच्छे हैं। अगर आप केरल का प्राकृतिक सौंदर्य को देखने के लिए केरल केरल की सैर करना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको केरल की 10 बेस्ट पर्यटन स्थल के बारे में बताने रहा हूँ इसके अलावा ये भी बताऊंगा की केरल कैसे जाना है? और केरल कैसे घूमना है।

Table of contents

केरल के बारे में जानकारी (Keral in Hindi)

केरल भारत का एक पूर्ण साक्षरता वाला राज्य है यहाँ की स्थानीय भाषा मलयालम है लेकिन यहाँ के लोग हिंदी और इंग्लिश बोलना भी अच्छे से जानते हैं।

केरल राज्य दक्षिण भारत में स्थित है. केरल की राजधानी Thiruvananthapuram हैं। पहाड़ों, घाटियों और झीलों की वजह से इसे 'देवताओं का देश' की उपाधि से दी गयी है।

केरल के बैकवाटर केरल के सबसे लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण हैं। सन 1498 में वास्कोडिगामा ने केरल में कालीकट पहुंचकर, भारत पहुँचने के लिए समुद्री मार्ग की खोज की थी।

केरल जाने का सबसे अच्छा समय

केरल में घूमने के लिए कई जगह है लेकिन सवाल यह आता है की केरल घूमने कब जाएँ या केरल घूमने का सही समय क्या है ?? आपको बता दूँ केरल का पीक सीजन सितंबर से मार्च तक होता है।

इस समय मानसून जा चूका होता है और मौसम सुहावना हो जाता है। इस दौरान केरल में कई त्यौहार भी मनाये जाते हैं जैसे -

  • कोचिन कार्निवल (जनवरी),
  • कुमारकोम बोट रेस (सितंबर-अक्टूबर)
  • अरनामुला बोट रेस (सितंबर)
  • इंदिरा गांधी बोट रेस (दिसंबर)
  • ओनम (सितंबर)
  • चेम्बाई म्यूजिक फेस्टिवल (नवंबर) आदि।

केरल में 10 प्रमुख पर्यटन स्थल (Best places to visit in kerala)

1. ओलेप्पी (Alleppey)

best places to visit in kerala

यह केरल की सबसे प्रसिद्द जगह है और हर साल पर्यटक यहाँ पर घूमने के लिए आते हैं. इस जगह को लार्ड कार्सन ने अलेप्पी को पूरब का वेनिस कहा था।

यह केरल के सबसे अच्छे पर्यटक स्थलों में से एक हैं. यह शहर लक्षदीप समुद्र किनारे स्थित है। यहाँ की बोट रेस बहुत ही फेमस है। अगर आप हाउसबोट में रहने का अनुभव करने चाहते हैं तो यहाँ पर आ सकते हैं

समुद्र तट के अलावा अलेप्पी में अंबालापुक्षा श्री कृष्ण मंदिर, कृष्णापुरम पैलेस, मरारी समुद्र तट, अरथुंकल चर्च आदि जगह भी घूमने के लिए अच्छी है।

घूमने का सही समय - साल भर

प्रमुख आकर्षण -अल्लेप्पी बीच, मारारी बीच, वेम्बनाड झील ,कृष्णापुरम पैलेस, कुट्टनाड बैकवाटर्स, पथिरमनल, आर्थुंकल चर्च, अम्बालापुझा मंदिर, मन्नारशला मंदिर इत्यादि

निकटतम रेलवे स्टेशन -एलेप्पी रेलवे स्टेशन

2. मुन्नार (Munnar)

यह एक हिल स्टेशन है जो की हनीमून मनाने वालों के लिए अच्छी जगह है। यह जगह केरल के प्रमुख हिल में बहुत फेमस है।

यहाँ पर बहुत ऊँची ऊँची पहाड़ी है जहाँ से आप बादलों को छु सकते हो। शादी शुदा जोड़ों के लिए यह बहुत ही खूबसूरत जगह है।

ये पहाड़ का डिजाईन मुख्यतः चाय के उत्पादन के लिए है। मुन्नार पर आमतौर पर ठण्ड होती है जो गर्मियों में आपको आराम और सकून का अनुभव कराएगी।

यहाँ पर आप हरी चाय के खेतों को करीब से देख सकते हैं। अगर आप केरल की खूबसूरती को महसूस करना चाहते हैं तो मुन्नार जरूर जाएं।

घूमने का सही समय -साल भर में कभी भी

प्रमुख आकर्षण - एराविकुलम नेशनल पार्क, मट्टुपेट्टी डैम, अनमुदी, ब्लॉसम पार्क, देवीकुलम, पल्लीवासल, टाटा टी म्यूजियम, कोलुकुमक्कराई, इंडो स्विस डायरी फार्म, लाइट ऑफ़ पाई चर्च इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (125 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - एरनाकुलम जंक्शन (128 किमी / 4 घंटे)

3. थेककड़ी (Thekkady)

यह पर्वतीय स्थल 'इडुक्की जिले' में स्थित है.यहाँ पर "पेरियर वन्यजीव अभ्यारण" है जो की पेरियार वन्यजीव हाथी, बाघ और गौर सहित पशुओं की विभिन्न प्रजातियों के संरक्षण के लिए एक लोकप्रिय स्‍थान है।

यह जगह परिवार और बच्चो के साथ घूमने के लिए सही है। थेककडी अपनी वन्य जीवन के साथ-साथ नैसर्गिक सौंदर्य के लिए दुनिया भर से पर्यटकों और दर्शकों को आकर्षित करता है।

केरल के सबसे अच्छे वन्य जीवन को देखने के लिए थेककडी झील की नाव यात्रा के मजे लेने चाहिए।

घूमने का सही समय - अक्टूबर से फरवरी (शीतकालीन)

प्रमुख आकर्षण - पेरियार नेशनल पार्क, पेरियार झील, कैरामोम हिल्स, स्प्रिंग वैली माउंटेन, पांडिकुझी, चेल्लारकोविल, मंगला देवी मंदिर

निकटतम हवाई अड्डा - मदुरई एयरपोर्ट (140 किमी), कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट (265 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - कोट्टायम रेलवे स्टेशन (107 किमी / 3 घंटे)

4. कोवलम (Kovalam)

केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम से केवल 16 किमी दूर स्थित, कोवलम देश के सबसे मनोरम और चंचल समुद्र तटों में से एक है।

ये स्‍थान कोवलम बीच, द लाइटहाउस बीच और हवाह बीच के लिए बहुत मशहूर हैं। लोग यहां पर सन बाथ, स्विमिंग, क्रूजिंग और केरला की मशहूर आयुर्वेदिक बॉडी मसाज का लुत्फ उठाते हैं। यहां पर सन सैट का अनोखा नजारा देखने के लिए लोग दूर दूर से आते हैं।

घूमने का सही समय - अगस्त से मार्च

प्रमुख आकर्षण -डच क्विलोन, थिरुमुल्लवरम बीच, कोल्लम बीच, थेनमाला, मयनाड, हिरण पार्क, थेवल्ली पैलेस, ब्रिटिश रेजिडेंसी, रामेश्वरा मंदिर, इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - तिरुवनंतपुरम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (51 किमी), कोच्चि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (129 किमी

निकटतम रेलवे स्टेशन - कोल्लम रेलवे जंक्शन

5. कुमारकोम (Kumarakom)

वेम्बानाड झील के शांत किनारे पर बसा कुमारकोम केरल का एक छोटा और खूबसूरत नगर है। छोटे-छोटे द्वीपों का एक समूह है।

अब यह स्थान पक्षी अभयारण्य के रूप में विकसित हो चुका है। कुमारकोम पक्षी पर अनुसंधान करने वाले लोगों के लिए भी आदर्श जगह है।

अल्लेप्पी से कुमारकोम तक नौकायन करते हुए क्रूज या हाउसबोट का आनंद ले सकते हैं। आप एक हाउसबोट पर पूरी शाम और रात बिता सकते हैं।

कुछ मछली पकड़ने और कैनोइंग विकल्प कुमारकोम की यात्रा को यादगार बना देंगे । यहाँ पर अगस्त और सितंबर में ओणम के दौरान स्नेक-बोट रेस होती है जो की रोमांचक खेल है।

इसके अलावा आप यहाँ पर सेट और बैकवाटर के खूबसूरत दृश्य, कुमारकोम पक्षी अभयारण्य और इग्रेट्स, डार्टर्स, बगुले, चैती, जलपक्षी, कोयल, जंगली बतख और साइबेरियाई सारस जैसे प्रवासी पक्षी को देख सकते हो।

घूमने का सही समय - सितंबर (मानसून की समाप्ति ) से मार्च (सर्दियों की समाप्ति )

प्रमुख आकर्षण -एराविकुलम नेशनल पार्क, ब्लॉसम पार्क, देवीकुलम, पल्लीवासल, टाटा टी म्यूजियम, चेरापारा झरने, कुंडला झील,मीसापुलिमला, कोलुकुमक्कराई, राजकपूर , इंडो स्विस डायरी फार्म इत्यादि।

निकटतम हवाई अड्डा - कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (125 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - एरनाकुलम जंक्शन (128 किमी / 4 घंटे)

6. वायनाड (Wayanad)

अपने पश्चिमी घाट के हरे भरे पर्वतों के बीच स्थित वायनाड का प्राकृतिक सौन्दर्य आज भी अपने प्राचीन रूप में मौजूद है।

यह जगह केरल के बारह जिलों में से एक है जो कन्नूर और कोझिकोड जिलों के बीच में है। अपनी भौगोलिक स्थिति के कारण भी यह एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है।

यहाँ पर आपके लिए आकर्षक झरने, एतिहासिक और रुकने के लिए आरामदायक रिसोर्ट मौजूद हैं। यह जगह वीकेंड में घूमने जाने के लिए काफी अच्छी है। यह जगह कोच्ची से 260 किमी और कोझिकोडे से 88 किमी दूर है.

घूमने का सही समय - साल भर में कभी भी

प्रमुख आकर्षण - बाणासुर सागर बांध, चेम्बरा पीक, सोचीपारा जलप्रपात, सेंटिनल रॉक फॉल्स, कंथापारा जलप्रपात, कुरुवा द्वीप, पूकोडे झील, लक्कीडीह, मुथुरा वन्यजीव अभयारण्य इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - कालीकट अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (98 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - नीलाम्बुर रेलवे स्टेशन (92 किमी / 3 घंटे)

7. वागामोन (Vagamon)

इडुक्की-कोट्टयम सीमा पर स्‍थित वागामोन केरल का एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है। घास के मैदानों, उद्यानों, डेल्स, चाय बागानों और घाटियों के लिए प्रसिद्ध वागामोन छुट्टियां मनाने के लिए एक आर्दश स्‍थान है।

यहां पहाड़ियों की एक श्रृंखला जैसी बनी हुई है, जिनमें से थांगल हिल, मुरुगन हिल और कुरुसमुला बेहद खास हैं।यहाँ Erattupetta मार्ग के साथ स्थित, Marmala Waterfall, वागामोन की शांति का प्रतीक है। थंगालपारा, जो मूल रूप से तीर्थस्थल है, जो चारों ओर से पहाड़ों से घिरा हुआ है।

वागमोन झील एक शानदार सूर्योदय या सूर्यास्त देखने के लिए सही जगह है। ट्रेकिंग, रॉक क्लाइम्बिंग और पैराग्लाइडिंग जैसी गतिविधियों के साथ वागामोन, पर्यटकों को धीरे-धीरे आकर्षित कर रहा है

इस जगह पर केरल पर्यटन विभाग और एडवेंचर स्पोर्ट्स एंड सस्टेनेबल टूरिज्म एकेडमी (AASTA) प्रत्येक वर्ष वागामोन में एक अंतर्राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग उत्सव आयोजित करता है।

घूमने का सही समय - साल भर में कभी भी

प्रमुख आकर्षण - मुरिन्जुपुझा जल प्रपात, एलवेज़हापूनचिरा, यूलिपुनी वन्यजीव अभयारण्य, इडुक्की आर्क डैम, पाइन हिल्स, परुथुम्परा पॉइंट,पीरमेड, मंगला देवी मंदिर इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (75 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - कोट्टायम रेलवे स्टेशन (64 किमी / 2 घंटे)

8. कोच्चि या कोचीन (kochi in hindi)

कोच्चि एक विकसित महानगर है जहाँ पर घूमने और देखने के लिए कई अच्छी जगहे हैं। यह जगह एर्नाकुलम जिले में स्थित है।

कोच्चि के पहले नाम कोचीन था जो की एक बंदरगाह की वजह से बहुत फेमस हो गया. यहाँ पर देखने के लिए बहुत ही अच्छी जगह है आप यहाँ अपने परिवार या प्रेमी के साथ घूमने आ सकते हैं।

कोच्चि में चेराई बीच, Mattancherry Palace, St. Francis CSI Church, Willingdon Island और Hill Palace Museum घूमने के लिए काफी अच्छी जगह हैं।

घूमने का सही समय - जुलाई (मानसून की शुरुआत) से अप्रैल (गर्मियों की शुरुआत )

प्रमुख आकर्षण - चेराई बीच, फोर्ट कोच्चि, Santa cruz cathedral basilica, वाइपेन आइलैंड, वाइपेन बीच, अंधराझांझी बीच, मरीन ड्राइव, बोलघट्टी आइलैंड, गुरुवायूर, चीनी फिशिंग नेट, सेंट, वास्को डी गामा स्क्वायर इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - कोच्चि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - कोच्चि रेलवे जंक्शन

9. कोझिकोड (Kozhikode)

कोजहिकोडे को पहले कालीकट के नाम से जाना जाता था। यह जगह अपनी ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और शैक्षिक श्रेष्‍ठता के लिए प्रसिद्ध है।

वसाको डि गामा, मसालों और योग्‍य वस्‍तुओं की खोज में पहली बार कालीकट आया था। इसके बाद कालीकट केरल और बाकी दुनिया के बीच व्यापार का मुख्य केंद्र बन गया।

इसके बाद अंग्रेज और डच साम्राज्‍य के लिए भी यहां आने का विषेश कारण बना। आज भी यह केरल के सबसे महत्‍वपूण बिजनेस शहरों में से एक है।

कालीकट का "मालाबार फूड"पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। कोझिकोड शहर काली मिर्च, कॉफ़ी, रबड़, लेमनग्रास ऑइल आदि वस्तुओं का विपणन केंद्र है। इसके अलावा दम बिरयानी, कलममाकाया और चट्टी पथरी जैसे कुछ व्यंजन यहां के सबसे चर्चित खाद्य हैं।

घूमने का सही समय -जुलाई से अप्रैल

प्रमुख आकर्षण - कोझीकोड बीच, बेयपोर बीच, कोझीपारा फॉल्स, थिकोटी लाइटहाउस, टाली टेम्पल, लायन पार्क, मन्नीचिरा स्क्वायर, कृष्णा मेनन संग्रहालय इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - कालीकट अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (28 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - कोझीकोड रेलवे स्टेशन

10. वर्कला (Varkala)

केरल में वर्कला सबसे अच्छे समुद्र तटों में से एक है। तिरुवनंतपुरम से 51 मील की दूरी पर स्थित वर्कला अपने प्राकृतिक आकर्षण और ऊंची चट्टानों के साथ दुनिया भर से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

यहां के समुद्र पर रोचक गतिविधिया होती हैं जैसे सन बाथ, नाव की सवारी, सर्फिंग और आयुर्वेदिक मालिश आदि। यहाँ पर आप पैराग्लाइडिंग और पैरासेलिंग जैसी एक्टिविटी भी कर सकते हैं।

यहाँ पर बहुत से मदिर भी जहा पर आप दर्शन के लिए भी जा सकते हैं। जनार्दन स्वामी मंदिर, अंजेंगो किला, विष्णु मंदिर और शिवगिरी मठ यहाँ के फेमस मदिर है।

घूमने का सही समय - साल भर में कभी भी

प्रमुख आकर्षण - पैराग्लाइडिंग, वर्कला बीच, थिरुवमबाड़ी बीच, एडवा बीच, कपिल बीच, पापनासम बीच, 590 क्लिफ इत्यादि

निकटतम हवाई अड्डा - त्रिवेंद्रम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (36 किमी)

निकटतम रेलवे स्टेशन - वर्कला शिवगिरी रेलवे स्टेशन

केरल कैसे जाये ? (केरल कैसे पहुंचे?) (How to Reach Kerala)

1. हवाई जहाज से - केरल राज्य में तीन हवाई अड्डे तिरुवनंतपुरम, कोच्चि और कोझीकोड में स्थित हैं. इनमे तिरुवनंतपुरम, कोच्चि हवाई अड्डा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है।

2. ट्रेन से - केरल भारत के अन्य रेल नेटवर्क से अच्छी तरह व्यवस्थित है. यहाँ पहुँचने के लिए आप सुपर फास्ट और एक्सप्रेस गाड़ियों का उपयोग कर सकते हैं।

केरल का रेल नेटवर्क भारत के प्रमुख शहरों जैसे नई दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।

3. सड़क मार्ग से - केरल सीधे सड़क से कर्नाटक और तमिलनाडु दोनों तक जुड़ा हुआ है। केरल में आप उसके पडोसी राज्य कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश से सीधे सड़क मार्ग से पहुँच सकते हैं।

इन्हें भी देखें

केरल दर्शनीय स्थल map

शनिवार, 10 अप्रैल 2021

सोमनाथ समुद्र तट गुजरात - Somnath Beach Gujarat in Hindi

सोमनाथ मंदिर, भारत के प्रमुख मंदिरों में से सबसे फेमस है और इस मंदिर से कुछ दूरी पर सोमनाथ समुद्र तट(Somnath Beach) है तो अगर आप सोमनाथ मंदिर के दर्शन के लिए जा रहे हो तो इस बीच पर भी घूमने के लिए जा सकते हैं।

यहाँ पर मै सोमनाथ बीच के बारे में जरूरी जानकारी देने जा रहा हूँ जिससे आपको सही जानकारी प्राप्त हो सके और यहाँ जाते समय आपको कोई परेशानी न हो।

सोमनाथ समुद्र तट के बारे में (About Somnath Beach)

Somnath beach gujarat
Somnath Beach Image

सोमनाथ समुद्र तट, भारत के गुजरात राज्य के गिर सोमनाथ जिले में सोमनाथ शहर में स्थित है. यह सोमनाथ मंदिर से 750 मीटर और सोमनाथ रेलवे स्टेशन से 1. किमी की दूर पर है।

यह अरब सागर से तट से मिला हुआ है. अगर आप सोमनाथ मदिर के दर्शन के लिए जाते हैं तो सोमनाथ तट की यात्रा भी कर सकते हैं।

यह जगह अपने परिवार और दोस्तों के साथ एक दिन के लिए घूमने के लिए काफी अच्छी जगह है यहाँ आकर आप शांति और सकून का अनुभव कर सकते हो।

इस बीच पर समुद्र की तेज लहरे उठती है जिस वजह से आप यहाँ पर नहाने के लिए नही जा सकते हो और न ही स्विमिंग कर सकते हैं लेकिन पानी में जाकर आप समुद्र की ठंडी लहरों का आनंद ले सकते हो।

पानी की बात करूँ तो पानी काफी साफ़ सुथरा है और आस पास का माहोल भी ठीक ठाक है. इस बीच पर पर्यटक आते ही रहते हैं इस वजह से यहाँ पर सामान्य भीड़ देखने को मिल सकती है।

यहाँ पर ठहरने के लिए काफी सारे होटल मौजूद है. Lords Inn Somnath होटल सबसे सोमनाथ समुद्र तट के सबसे नजदीकी होटल है जो की 1.3 किमी दूर है.

सोमनाथ समुद्र तट पर करने लायक चीजे (Things do to At Somnath Beach)

सोमनाथ समुद्र तट पर काफी सारी सुविधा उपलब्ध है आप यहाँ पर तैराकी तो नही कर सकते हैं लेकिन ऊंट की सवारी, स्वादिष्ट खाने और समुद्र के सुन्दर नज़रों का आनंद ले सकते हैं।

इसके अलावा इस समुद्र तट पर जीप बैलूनिंग और पेरा सेलिंग भी कभी कभी होती है. यहाँ चौपाटी पर बहुत से फेरीवाले होते हैं जहाँ से आप खाने के लिए भेलपूड़ी, भुट्टे, नारियल जैसी चीजें खरीद सकते हो।

सोमनाथ बीच पर सूर्यास्त और सूर्योदय का नज़ारा बहुत ही खूबसूरत होता है. शाम को के साथ सूर्यास्त का देखना एक अलग ही अहसास कराता है।

सोमनाथ बीच के आस पास घूमने के लिए कई जगह है, आप सोमनाथ मंदिर के अलावा त्रिवेणी घाट,अहिल्या बाई मंदिर, भालका तीर्थ, परशुराम मंदिर, लक्ष्मीनारायण मंदिर, गीता मंदिर भी घूमने के लिए जा सकते हो।

कैसे पहुंचे? (How to Reach Somnath Beach)

सोमनाथ समुद्र तट, सोमनाथ मंदिर से 750 मीटर की दूरी पर है वहीं सोमनाथ मंदिर अहमदाबाद से 400 किमी, जूनागढ़ से 85 किमी, भावनगर से 266 किमी और पोरबंदर से 122 किमी की दूरी पर है।

फ्लाइट से - नजदीकी एयरपोर्ट दमन एवं दीव के दीव में हैं जो की 90 किमी दूर है। इसके अलावा नजदीकी एयरपोर्ट, केशोद एयरपोर्ट (Keshod Airport) है जो की सोमनाथ मंदिर से 55 किमी दूर है।

रेल मार्ग - नजदीकी रेलवे स्टेशन वेरावल में है जो की 7 किमी दूर है. सरकार की तरफ से अहमदाबाद से वेरावल के लिए सोमनाथ एक्सप्रेस नाम से ट्रेन चलाई जाती है।

बस द्वारा - बस सोमनाथ पहुचने का सबसे अच्छा साधन है. सोमनाथ सड़क मार्ग से गुजरात के प्रमुख शहरो से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है. आप आसानी से सरकारी या प्राइवेट बसों के मध्यम से सोमनाथ बीच पहुँच सकते हो.

निष्कर्ष - उम्मीद करता हूँ आपको सोमनाथ समुद्र तट (Somnath Beach) के बारे में जरूरी जानकारी प्राप्त हो गयी होगी. लेटेस्ट पोस्ट का अपडेट पाने के लिए ईमेल आई डी डालकर हमे फॉलो जरुर करें.

Map

शनिवार, 27 मार्च 2021

बेट द्वारका एक सुंदर द्वीप और धार्मिक स्थान - Beyt Dwarka in hindia
Beyt Dwarka Map

Beyt Dwarka Island द्वीप , टापू , ज़जीरा

बेट द्वारका, द्वारका नगरी के तीन भागों (मूल द्वारका, गोमती द्वारका और बेट द्वारका) में से एक भाग है. यह जगह हिन्दू धर्म के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

द्वारका में और उसके पास कई समुद्र तट है और उन्हीं समुद्र तट में से बेट द्वारका समुद्र तट (Bet Dwarka Beach) बहुत प्रसिद्ध है।

इस पोस्ट में मै इसी बीच के बारे में बताने जा रहा हूँ जिससे आपको बेट द्वारका समुद्र दर्शन के लिए सही जानकारी प्राप्त हो सके तो आइये जानते हैं।

बेट द्वारका बीच के बारे में (About Bet Dwarka Beach)

बेट द्वारका (Beyt Dwarka) भारत के गुजरात राज्य के "द्वारका" जिले के किनारे स्थित द्वीप है यह द्वीप के ओखा शहर ( द्वारका जिला) के तट से 3 किमी दूर स्थित कच्छ की खाड़ी के मुहाने पर बसा हुआ है.

यहीं पर एक साफ सुथरा शांत समुद्र तट है जिसे बेट द्वारका समुद्र तट ( Beyt Dwarka Beach) के नाम से जानते हैं. यह बीच घूमने के लिए काफी अच्छी जगह है.

बेट द्वारका का नाम भेंट द्वारका है जिसे गुजरती में बेट द्वारका कहा जाता है. ऐसी मान्यता है की इसी स्थान पर ही भगवान् कृष्ण की भेंट(मुलाकात) सुदामा से हुई है.

Bet Dwarka images

द्वारका से बेट द्वारका की दूरी तकरीबन 35 किलोमटर है। वैसे तो द्वारका में "द्वारका बीच" है लेकिन वहां पर आप बेट द्वारका बीच जितनी एक्टिविटी नही कर पाएंगे।

यह बीच अपने समुद्री भ्रमण, पिकनिक और शिविर (कैम्पिंग) के लिए प्रसिद्द है. आप यहाँ पर अपने परिवार और दोस्तों के साथ एक दिन की द्वारका यात्रा पर जा सकते हो और मजे कर सकते हो।

बेट द्वारका में करने लायक चीजें (Things to do Beyt Dwarka Beach)

Beyt Dwarka images

बेट द्वारका द्वीप में घूमने और करने के लिए काफी चीजें हैं आप यहाँ पर कैम्पिंग कर सकते हो, स्कूबा ड्राइविंग और स्पोर्ट्स एक्टिविटी कर सकते हो। इसके अलावा आप यहाँ पर डॉलफिन के दर्शन भी कर सकते हो।

यहाँ का पानी काफी साफ़ है जिससे आपको यहाँ पर नीला समुद्र देखने में काफी अच्छा लगेगा. बेट द्वारका पक्षी प्रेमियों के लिए भी काफी अच्छी जगह है।

बेट द्वारका बीच पर स्कूबा डाइविंग जैसी एक्टिविटी होती है तो अगर आप समुद्र के अन्दर गहरे में जाकर देखना चाहते हो तो स्कूबा डाइविंग कर सकते हो।

यहाँ पर आप कैम्पिंग कर सकते हो और कैंप फायर का भी आनंद ले सकते हो। बेट द्वारका समुद्र तट से कुछ दूर डनी पॉइंट है जहाँ पहुँच कर आप डॉलफिन के दर्शन भी कर सकते हो।

इसके अलावा बेट द्वारका में देखने के लिए श्री कृष्ण मंदिर, हनुमान दांडी मंदिर और श्री चौर्यासी धुना सिद्धपीठ जैसी जगह हैं।

पहुचने का सही समय (Best time to visit Beyt Dwarka)

बेट द्वारका पहुचने का सही समय अक्टूबर से मार्च का महीना है इस समय मौसम सर्द रहता है और तापमान 20 डिग्री से 28 डिग्री के बीच रहता है जो की यात्रा के अनुकूल है।

हालाँकि यहाँ गर्मी के मौसम में असहनीय गर्मी पडती है जो बच्चों और बुढो के लिए यह समय सही नही होगा. बारिश के दौरान अधिक बारिश होती है।

बेट द्वारका बीच कैसे पहुंचे ( How to Reach Beyt Dwarka Beach)

बेट द्वारका द्वीप पहुचने के लिए, पहले द्वारका नगरी पहुचना होगा जो यहाँ से 35 किलोमीटर दूर है. इसके बाद द्वारका नगरी से ओखा जेटी पहुंचना होगा जो की 30 किमी है।

ओखा जेटी से बेट द्वारका द्वीप पहुँच सकते हो जो की 5 किलोमीटर दूर है. ओखा जेटी से "बेट द्वारका" पहुचने का एक मात्र साधन नाव ही है नाव से 10 से 15 मिनट में बेट द्वारका द्वीप पहुँच जायेंगे।

हवाई मार्ग - द्वारका के निकटतम हवाई अड्डा जामनगर है यहाँ पहुचने के बाद बस या कैब के जरिये द्वारका पहुँच सकते हो ।

रेल मार्ग और बस द्वारा - द्वारका एक धार्मिक स्थल होने की वजह से प्रमुख शहरों से यहाँ के लिए ट्रेन उपलब्ध है। द्वारका पहुंचने के बाद निजी वाहन द्वारा ओखा पहुंचकर बेट द्वारका बीच जा सकते हो।

इन्हें भी देखें

Map

शनिवार, 20 मार्च 2021

द्वारका बीच (समुद्र तट) - Dwarka Beach in Hindi
dwarka beach gujarat

गुजरात भारत के प्रमुख राज्यों में से हैं और बेस्ट टूरिज्म प्लेस के लिए भी जाना जाता है यहाँ पर कई सारे बीच हैं। इस पोस्ट में मै गुजरात के द्वारका धाम में स्थित द्वारका बीच के बारे में ही बताने जा रहा हूँ।

द्वारका हिन्दू धर्म के चार धाम में से एक धाम है और लोग यहाँ पर यात्रा करने के लिए आते ही रहते हैं। पुराणों के अनुसार द्वारका नगरी का निर्माण भगवन कृष्णा ने करवाया था।

अगर आप चार धाम की यात्रा पर द्वारका आये हुए हुए हैं तो द्वारका समुद्र तट (Dwarka Beach) पर भी घूमने जा सकते हैं।

शनिवार, 13 मार्च 2021

उत्तर गोवा और दक्षिण गोवा में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें - Best Places to visit in Goa Hindi
Best places to visit in Goa

हेल्लो दोस्तों अगर आप गोवा घूमने का प्लान बना रहे हैं तो यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होगी इस पोस्ट में मै आपको गोवा घूमने के लिए प्रमुख जगहों (Best places to visit in goa) के बारे में बताने जा रहा हूँ तो आइये जनते हैं।

गोआ भारत का प्रमुख राज्य है इसकी राजधानी पणजी हैं। गोआ के दो जिले है पहला नार्थ गोवा और साउथ गोवा। गोआ का सबसे बड़ा शहर वास्कोडिगामा है।

मंगलवार, 2 मार्च 2021

गोवा (Goa) घूमना चाहते हैं तो गोवा जाने से पहले जानिए ये बातें
goa beach images
goa beach images

Goa in hindi: गोवा भारत का प्रमुख राज्य है इस आर्टिकल में गोवा के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ। कई लोगों को गोवा के बारे में जयादा जानकारी नही होती की कैसे जाना है? कहाँ रुकना है, फेमस जगह कौन सी है।

अगर आप गोवा घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं लेकिन गोवा के बारे में जानकारी नही है तो इस पोस्ट के जरिये आपको जानकारी हो जाएगी ।

शनिवार, 27 फ़रवरी 2021

गोवा के 10 ख़ूबसूरत पर्यटन स्थल - Top 10 Places to Visit in Goa
best places to visit in goa
Goa tourist places list with Photos

क्या आपको पता है गोवा के 10 प्रमुख ख़ूबसूरत पर्यटन स्थल कौन से हैं? (10 best places to visit in goa)। गोआ भारत के प्रमुख राज्यों में से एक है। अगर आप भारत मे विदेशो जैसा अनुभव करना चाहते है तो गोआ घूमने जा सकते हैं

गोआ अपने विदेशी लाइफस्टाइल और खूबसूरत बीचो की वजह से दुनिया भर में मशहूर है। देश विदेश से लोग यहाँ पर घूमने आते ही रहते है।

यहाँ पर लोग हनीमून, फॅमिली ट्रिप, दोस्तों के साथ ट्रिप, छुट्टी बिताने के लिए गोवा आते हैं। गोवा छुट्टी बिताने के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन मन जाता है।

गोवा खासकर युवाओं के बीच ज्यादा लोक प्रिय है। यहाँ का मस्ती भरा माहोल, एडवेंचर, बीच पर मस्ती नाईट लाइफ, प्राकर्तिक सुन्दरता यहाँ पर आने के लिए लोगों को अपनी और आकर्षित करती है।