मंगलवार, 3 नवंबर 2020

जूनागढ़ के प्रसिद्ध 15+ टूरिस्ट प्लेसेस (घूमने की जगहें) - Top 15+ Places to visit in Junagadh in Hindi

Junagadh

जूनागढ़ शहर, भारत के राज्य गुजरात में स्थित है। जूनागढ़, गुजरात के सबसे आकर्षक और सुंदर जिलों में से एक है। और यह राज्य का 7 वां सबसे बड़ा शहर है। जूनागढ़ गिरनार पहाड़ियों के तल पर स्थित है, जो राज्य की राजधानी गांधीनगर और अहमदाबाद से 355 किमी दक्षिण पश्चिम में स्थित है।

जूनागढ़ नाम का अर्थ है "पुराना किला"। और इस शहर को "सोरठ" के नाम से भी जाना जाता है, जो जूनागढ़ की रियासत का नाम है।

जूनागढ़ में विभिन्न आकर्षणों के बीच, गिरनार पर्वत, दातार हिल, मोहब्बत मकबरा, उपरकोट किला, शक्करबाग प्राणि संग्रहालय, दामोदर कुंड और दामोदरजी मंदिर जैसी जगहें पर्यटकों के लिए मुख्य आकर्षण हैं।

Website: www.junagadhmunicipal.org

Table of contents

  1. जूनागढ़ शहर की भाषा (Junagadh city language)
  2. जुनागढ़ शहर में घूमने लायक जगहें (Places to Visit in Junagadh)
  3. गिरनार पर्वत - (Girnar hills)
  4. अशोक के शिलालेख - (Edicts of Ashoka)
  5. भवनाथ - (Bhavnath)
  6. दामोदर कुंड - (Damodar Kund)
  7. दातार हिल - (Datar hills)
  8. विलिंग्डन डेम - (Willingdon dam)
  9. उपरकोट किला - (Uperkot Fort)
  10. साइन्स म्यूज़ीयम (तारा-घर) - Science Museum (Planetarium)
  11. शक्करबाग प्राणि संग्रहालय - (Sakkar Baug)
  12. मोहब्बत मकबरा - (Mahabbat Makbara)
  13. जामा मस्जिद - (Jama Masjid)
  14. दरबार हॉल म्यूज़ीयम - (Darbar Hall Museum)
  15. मोती बाग - (Moti Baug)
  16. स्वामीनारायण मंदिर - (Swaminarayan Mandir)
  17. सूरज फन वर्ल्ड - (Suraj Fun world)
  18. जूनागढ़ शहर के कुछ अन्य आकर्षण (Other Attractions)
  19. सिनेमा - (Cinema)
  20. होटल और रिसॉर्ट्स - (Hotels and Resorts)
  21. रेस्टोरेंट - (Restaurants)
  22. जूनागढ़ का मौसम - (Junagadh Weather)
  23. जूनागढ़ घूमने का सबसे अच्छा समय (Best time to visit Junagadh)
  24. जूनागढ़ कैसे पहुँचे (How to reach to Junagadh)

जुनागढ़ शहर की भाषा

क्योंकि जूनागढ़ शहर गुजरात में स्थित है इसलिए इस शहर की भाषा भी गुजराती है। इस के अलावा यहां पर हिन्दी और इंग्लीश भी बोली जाती है।

जुनागढ़ शहर में घूमने लायक जगहें (Places to Visit in Junagadh)

गिरनार पर्वत - (Girnar hills)

गिरनार पर्वत - Girnar hills

गिरनार, जूनागढ़ की एक प्राचीन और पवित्र पहाड़ी है, जो 3672 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। गिरनार पहाड़ियाँ पर 866 हिंदू और जैन मंदिर फैले हुए हैं। अंतिम शिखर तक पहुँचने के लिए 9,999 सीढ़ियाँ चढ़नी पड़ती हैं जो गिरनार तलेटी से शुरू होती है। गिरनार हिल की सुबह की सैर एक आनंदित अनुभव कराती है, जो टूरिस्ट को जीवनभर याद रहता है। हिंदू और जैन धर्म के लोग अक्सर इन मंदिरों में जाते हैं।

हिंदू तीर्थ स्थल: गोरक्षनाथ मंदिर, दत्तात्रेय मंदिर और अंबा माता मंदिर और कुछ अन्य मंदिर हैं जो देखने लायक हैं। और एक प्राचीन मंदिर दत्तात्रेय पादुका, हिंदू के लिए सबसे पूजनीय स्थल है।

जैन तीर्थ स्थल: तीसरी शताब्दी से गिरनार हिल जैनों के लिए एक महत्वपूर्ण स्थल रहा है। तीर्थंकारा नेमिनाथ मंदिर, भगवान रिशभदेव, मल्लीनाथ, भगवान पार्श्वनाथ मंदिर, कुछ जैन मंदिर जो गिरनार पहाड़ी पर देखे जा सकते हैं।

समय: सुबह 6:00 से शाम 5:00 तक
प्रवेश शुल्क: नि: शुल्क

अशोक के शिलालेख - (Edicts of Ashoka)

अशोक के शिलालेख - (Edicts of Ashoka)

अशोक के शिलालेख, जूनागढ़ से गिरनार पर जाते समय सड़क के दाईं तरफ स्थित है। यह शिलालेख के अशोक के नाम से प्रसिद्ध है जोके मौर्य वंश से थे। यहाँ अशोक की 14 आज्ञाएँ उत्कीर्ण हैं जो पाली भाषा मे लिखी हुई है, यह 75 फिट के घिरे मे लगभग 2200 वर्षों से रखी हुई है। 200 वर्षों से संरक्षित यह शिलालेख, अब भारत सरकार के पुरातत्व विभाग द्वारा संरक्षित है। गिरनार जाने वाले तीर्थयात्रियों कके लिए इस जगह का दौरा करने लायक है।

समय: सुबह 9:00 - दोपहर 1:00 और दोपहर 2:00 - शाम 6:00 बजे
प्रवेश शुल्क: भारतीय पर्यटकों के लिए INR 5 और विदेशी पर्यटकों के लिए INR 100

भवनाथ - (Bhavnath)

भवनाथ महादेव मंदिर जूनागढ़ के सबसे पवित्र स्थानों में से एक है। भवनाथ प्राचीन काल से गिरनार पहाड़ियों के नीचे स्थित है। भवनाथ एक सुंदर और उत्कृष्ट जगह है बारिश के मौसम में यह जगह अधिक सुंदर होतीहै। यह मिनी-कुंभ के लिए भी लोकप्रिय है जो महाशिवरात्रि पर आयोजित होताहै। भवनाथ प्रसिद्ध भवनाथ मेले के भी जाना जाता है जो जनवरी या फरवरी के दौरान होताहै।

दामोदर कुंड - (Damodar Kund)

दामोदर कुंड - (Damodar Kund)

हिंदू मान्यता के अनुसार, दामोदर कुंड पवित्र झीलों में से एक है, जो जूनागढ़ के गिरनार पर्वत की तलहटी में स्थित है। दामोदर कुंड झील 257 फीट लंबी, 50 फीट चौड़ी और 5 फीट गहरी है। यह एक अच्छे सांचे से घिरा हुआ है, जो भवनाथ पर जाते रास्ते पर आता हैं।

दातार हिल - (Datar hills)

Datar hills

दातार हिल जूनागढ़ शहर का एक पवित्र स्थल है। दातार पर्वत एक लोकप्रिय पर्यटक स्थल होनेके साथ मुस्लिम और हिंदू दोनों धर्म के श्रद्धालुओं लिए बहुत ही लोकप्रिय स्थान है। बारिश के दौरान यह स्थान और भी ज़्यादा आकर्षक हो जाता है। दातार शिखर पर जाते समय पर्यटक चीथरीया पीर, हाथी पत्थर, कोयला वजीर, जमियल शाह दातार की दरगाह और दिगंबर जैन भगवान नेमिनाथ मंदिर के भी दर्सन कर सकते हैं।

समय: सुबह 6:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक
दातार पर्वत पर जाने का कोई शुल्क नहीं है।
दातार हिल के बारे में और जाने

विलिंग्डन डेम - (Willingdon dam)

विलिंग्डन डेम (बांध) का निर्माण कालवा नदी पर हुआ है जहाँसे ये नदी सुरू होतीहै। इसे जूनागढ़ के लोगों के लिए पीने के पानी के संग्रह के लिए बनाया गया था। इसका नाम भारत के तत्कालीन गवर्नर लॉर्ड विलिंगडन के नाम पर रखा गया था। विलिंग्डन डेम से दातार हिल की सीढ़ियाँ सुरू होतीहे जो जमियल शाह दातार तक जाती है, ये हिंदू और मुस्लिम दोनों धर्मो के भक्तो की आस्था का स्थल हैं।

प्रवेश शुल्क: कोई शुल्क नहीं है।

उपरकोट किला - (Uperkot Fort)

उपरकोट किला - (Uperkot Fort)

उपरकोट किला जूनागढ़ में घूमने लायक ऐतिहासिक स्थानों में से एक बनाता है। यह किला प्राचीन किलों में से एक है। यहा पर अडी कड़ी वाव, नवघन कुओ, नीलम और मानेक नाम के तोप, जामा मस्जिद, नूरी शाह का मकबरा, बौद्ध गुफाएं, जैसे पर्यटक आकर्षण है। यह किला लगभग 2,300 साल पुराना है। उपरकोट किले की दीवारें बीस मीटर तक ऊँची हैं। यदि आप जूनागढ़ में हैं तो इस किले को अवश्य देखना चाहिए।

स्थान: मुल्लावाड़ा
समय: सुबह 8:00 से शाम 6:00 तक
प्रवेश शुल्क: INR 2 प्रति व्यक्ति

साइन्स म्यूज़ीयम (तारा-घर) - Science Museum (Planetarium)

जूनागढ़ साइन्स म्यूज़ीयम गुजरात राज्य में शुरू किया गया पहला विज्ञान संग्रहालय है
जुनागढ़ शहर में अपने प्रियजनों के साथ शानदार समय के लिए साइन्स म्यूज़ीयम एक आदर्श स्थान है। सर्वोत्तम रूप से मनोरंजन और रोमांच की भावना जो आपको साइन्स म्यूज़ीयम में देखने को मिलती है। यह सिर्फ दर्शनीय स्थल ही नहीं है, लेकिन यह आपको काफ़ी कुछ सीखने और समझने में भी मदद करता है और यहाँ देखने के लिए दिलचस्प काफ़ी चीज़ें है। तो इस लोकप्रिय पर्यटक स्थल के आकर्षण का आनंद लेना मत भूलना।

साइन्स म्यूज़ीयम का समय:-
रोजाना 10.00 A.M. से 1.00 P.M और 3.00 P.M. से 6.00 P.M.
साइन्स म्यूज़ीयम का प्रवेश शुल्क 25 रुपये है और तारामंडल (Planetarium) में प्रवेश के लिए अतिरिक्त 25 रुपये और 3D शो के लिए 45 रुपये है

शक्करबाग प्राणि संग्रहालय - (Sakkar Baug)

शक्करबाग प्राणि संग्रहालय जूनागढ़ के सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है। सक्करबाग बच्चों के साथ घूमने लायक स्थान है। सक्करबाग का मुख्य आकर्षण एशियाई शेर हैं। इसके अलावा यहाँ पर तेंदुआ, मृग, हिरण, काला हिरन, जंगली सूअर, नीला बैल, पक्षियों, मछलीघर, भी है। शक्करबाग प्राणि संग्रहालय पार्क में एक प्राकृतिक इतिहास म्यूज़ीयम और एक पशु चिकित्सालय भी है। सक्करबाग जमीन के 200 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैला है।

स्थान: जूनागढ़ राजकोट हाइवे - NH-8D
समय: सुबह 8:00 से शाम 5:00 तक (बुधवार को बंद होताहै)
प्रवेश शुल्क:
बच्चों के लिए INR 10 प्रति व्यक्ति (12 वर्ष से कम) वयस्कों के लिए INR 20 प्रति व्यक्ति (12 वर्ष और अधिक) प्रति कैमरा INR 20 वीडियो कैमरा INR 100

मोहब्बत मकबरा - (Mahabbat Makbara)

मोहब्बत मकबरा - (Mahabbat Makbara)

महोबत मकबरा, यहाँ पर बहारुद्दिन हुसैनभाई की कबर है, जो एक समय जूनागढ़ के नवाब थे। यह मकबरा 1851 और 1882 के बीच बनाया गया था। मोहब्बत मकबरा की संरचना यूरोपीय, नियो-गोथिक और इंडो इस्लामिक शैलियों का मिश्रण है। महोबत मक़बरे के गुंबद और मीनारें इस्लामिक शैली में बनाई गई हैं और इसके स्तंभ गोथिक शैली में बनाए गए हैं। इतिहास प्रेमियोंके लिए ये बहुत ही आकर्षित जगह है।

स्थान: चिता खाना, मुल्लावाड़ा
समय: 24 घंटे खुला होताहै
प्रवेश शुल्क: कोई नहीं

जामा मस्जिद - (Jama Masjid)

जामा मस्जिद - (Jama Masjid)

जामा मस्जिद भी जूनागढ़ के ऐतिहासिक प्रतीक में से एक है जिसे 1423 मै बनाया गया। जामा मस्जिद में एक खुला आंगन है, जो सफेद संगमरमर से सजा है। मस्जिद के हॉल में 260 स्तंभ और 15 गुंबद है। जामा मस्जिद मै अनय मस्जीदो की तरह दिनमें 5 वक्त की नमाज़ होती है। और ये सुन्नी मुस्लिमो की मस्जिद है।

स्थान: चिता खाना, मुल्लावाड़ा
प्रवेश शुल्क: कोई नहीं

दरबार हॉल म्यूज़ीयम - Darbar Hall Museum

दरबार हॉल म्यूज़ीयम - Darbar Hall Museum

दरबार हॉल म्यूज़ीयम में ऐतिहासिक और प्राचीन वस्तुओं का संग्रह है। दरबार हॉल म्यूज़ीयम में कई कमरे हैं, जैसे आप हथियार कक्ष, रजत कक्ष, लकड़ी के सामान कक्ष, सिक्के कक्ष, कांच और मिट्टी के बर्तनों का कमरा, नवाब चित्रांकन कक्ष, और हावड़ा और पालकी कक्ष देख सकते हैं।

स्थान: नगर रोड, जूनागढ़
समय: 9 AM - 12 PM और 3 PM - 5:15 PM
प्रवेश शुल्क: 2 INR रुपये

मोती बाग - (Moti Baug)

प्रकृति प्रेमी के लिए मोतीबाग भी जूनागढ़ में देखने लायक प्रमुख स्थानों में से एक है। मोतीबाग में एक तालाब और कई झाड़ियाँ और पौधे है। यदि हरे भरे बगीचेसे आपको बहुत प्यार हैं तो मोती बाग एक अविश्वसनीय स्थान है जो आपकी सूची में होना चाहिए।

स्थान: वांथली रोड, मोती बाग, जूनागढ़ विश्वविद्यालय,
प्रवेश शुल्क: नहीं।

स्वामीनारायण मंदिर - Swaminarayan Mandir

स्वामीनारायण मंदिर - Swaminarayan Mandir

स्वामीनारायण मंदिर का निर्माण 1828 में पूरा हुआ था और तब से यह जूनागढ़ में एक प्रसिद्ध हिंदू मंदिर है। स्वामी नारायण मंदिर में कई मूर्तियां और 5 मीनार हैं।

स्थान: जवाहर रेड, श्रीनाथ नगर
समय: सुबह 7:00 से शाम 8:30 तक
प्रवेश शुल्क: कोई नहीं

सूरज फन वर्ल्ड - (Suraj Fun world)

अगर आप जूनागढ़ में एम्यूज़मेंट पार्क ढूँढ रहे है तो सूरज फन वर्ल्ड ज़रूर जाइए। यहाँ त्योहारों में लोग ज़्यादा जाते है, बाकी दीनोमें पार्क बिल्कुल खाली होता है।

स्थान: कॉलेज रोड, गाँधी ग्राम
समय: 2:00PM से 11:00PM तक
प्रवेश शुल्क: प्रवेश शुल्क 20 रुपये, और प्रति सवारी अतिरिक्त शुल्क।

जूनागढ़ शहर के कुछ अन्य आकर्षण

बालभवन पार्क - (Balbhawan Park)

जुनागढ रोड, कड़ियावाड, जूनागढ़

राजीव गाँधी गार्डेन - Rajiv Gandhi Garden

मनोरंजन गेस्ट हाउस के पास, जुनागढ

शहीद पार्क - Shahid Park

तलाव गेट, जूनागढ़

नरसिंह मेहता लेक - Narsinh Mehta lake

नरसिंह मेहता लेक - Narsinh Mehta lake

नरसिंह मेहता झील जूनागढ़ के केंद्र में स्थित है जिसे 15 वीं शताब्दी के कवि और गुजरात के संत नरसिंह मेहता के नाम पर रखा गया है।

तलाव गेट, जूनागढ़

सिनेमा - (Cinema)

जूनागढ़ में मुख्य रूप से 3 सिनेमा हैं

सूरज मल्टीप्लेक्स - Suraj Multiplex

एड्रेस: बहाउद्दीन साइंस कॉलेज के पीछे, सूरज फनवर्ल्ड के पास, गांधी ग्राम

जयश्री सिनेमा - Jaishree Cinema

एड्रेस: जयश्री रोड, तलाव गेट

प्रदीप सिनेमा - Pradeep Cinema

एड्रेस: प्रदीप पुलिस स्टेशन के पास, सरदार चौक, जूनागढ़ जिमखाना के पीछे

होटल और रिसॉर्ट्स - (Hotels and Resorts)

  • Asiatic Lion Lodge
  • Indralok
  • Leo Resort
  • Hotel Anil Farm House
  • Shaan-e-gir Forest Camp Resort
  • The Fern - Gir Forest Resort
  • Magnum Inn
  • Gir Lodge
  • Harmony
  • Sapphire
  • Vishala
  • The Lotus

रेस्टोरेंट - (Restaurants)

  • Petals Restaurant
  • Geeta Lodge
  • Utsav Restaurant
  • Patel Restaurant & Banquet Hall
  • Santoor
  • Sugar n Spice Restaurant
  • Rajbhog Restaurant
  • Patel Parotha House Ac Dinning Hall

जूनागढ़ का मौसम - Junagadh Weather

जूनागढ़ में औसत तापमान - Avg. Temperature in Junagadh

जनवरी से अप्रैल - 20.1 से 27.1 (डिग्री सेल्सियस) | 68.2 से 80.8 (डिग्री फारेनहाइट)
January to April - 20.1 to 27.1 (°C) | 68.2 to 80.8 (°F)

मई से अगस्त - 29.3 से 27 (डिग्री सेल्सियस) | 84.7 से 80.6 (डिग्री फारेनहाइट)
May to August - 29.3 to 27 (°C) | 84.7 to 80.6 (°F)

सितंबर से दिसंबर - 27 से 21.8 (डिग्री सेल्सियस) | 80.6 से 71.2 (डिग्री फारेनहाइट)
September to December - 27 to 21.8 (°C) | 80.6 to 71.2 (°F)

Wether Reference

जूनागढ़ घूमने का सबसे अच्छा समय (Best time to visit Junagadh)

जूनागढ़ घूमने के लिए सबसे अच्छा मौसम सर्दियों का है। अक्टूबर, नवंबर, दिसंबर और जनवरी जूनागढ़ घूमने का सबसे अच्छा समय होता है।

जूनागढ़ कैसे पहुँचे (How to reach to Junagadh)

राजकोट से जुनागढ़ - Rajkot to Junagadh

राजकोट से जुनागढ़ रोड की दूरी लगभग 103 किमी है

राजकोट - जूनागढ़ बस द्वारा, 3 घंटे - टैक्सी द्वारा, 2 घंटे

राजकोट जंक्शन - जूनागढ़ जंक्शन ट्रेन से, 3 घंटे

Rajkot to Junagadh by road

अहमदाबाद से जूनागढ़ - Ahmedabad to Junagadh

अहमदाबाद से जूनागढ़ रोड की दूरी लगभग 316 किमी है

अहमदाबाद - जूनागढ़ बस द्वारा, 7 घंटे - टैक्सी द्वारा, 5 घंटे

अहमदाबाद जंक्शन - जूनागढ़ जंक्शन ट्रेन से, 8 घंटे

जूनागढ़ में परिवहन किसी भी अन्य भारतीय शहर की तरह ही है। आप रिक्शा द्वारा विभिन्न स्थानों पर जा सकते हैं या इसके लिए टैक्सी किराए पर ले सकते हैं।

इसे अंग्रेजी में पढ़ें - Read in English

Referances

https://en.wikipedia.org/wiki/Junagadh

Previous Post
Next Post

0 comments: